digital marketing course in Hindi | डिजिटल मार्केटिंग कोर्स की पूरी जानकारी

क्या आपने digital marketing के बारे में सुना है? क्या आप digital marketing course के बारे में जानना चाहते है, क्या आप digital marketing course करने वाले है?

चलिए हम digital marketing course के बारे सब कुछ जानने की कोशिश करते है। digital marketing course, internet marketing course, online marketing course, यह सब कुछ एक ही होता है बस इसको अलग-अलग नाम से जाना जाता है।

डिजिटल मार्केटिंग क्या होता है

किसी सामान या सर्विस को डिजिटल उपकरण के इस्तेमाल से मार्केटिंग करने को डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है। आसान शब्दों में इंटरनेट के इस्तेमाल से किसी सामान या सर्विस की मार्केटिंग करने को डिजिटल मार्केटिंग कहा जाता है।

डिजिटल मार्केटिंग के बहुत से भाग होते है। जैसे सर्च इंजन मार्केटिंग(SEM), सोशल मीडिया मार्केटिंग (SMM), आदि।

यह जरूर जानें: एक सफल blogger कैसे बने

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स क्या होता है

digital marketing course in Hindi
digital marketing course in Hindi

अब सवाल यह है कि डिजिटल मार्केटिंग कोर्स क्या होता है। हम आपको बता दे कि डिजिटल मार्केटिंग को सीखने वाले कोर्स को डिजिटल मार्केटिंग कोर्स कहा जाता है।

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स में डिजिटल मार्केटिंग के बारे में बताया जाता है। इसके साथ ही यह भी बताया जाता है कि डिजिटल मार्केटिंग कैसे काम करता है, डिजिटल मार्केटिंग कैसे कर सकते है और डिजिटल मार्केटिंग में सफल कैसे हो सकते है।

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को कोई कंपनी, संस्था या व्यक्ति बनाता और बेचता है।

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के कई प्रकार होते है। किसी एक डिजिटल मार्केटिंग के कोर्स में सभी डिजिटल मार्केटिंग के बारे में सब कुछ नहीं बताया जाता है।

यदि आप भी डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करना चाहते है तो आप कौन सा डिजिटल मार्केटिंग करने वाले है। जैसे सोशल मीडिया मार्केटिंग (SMM), सर्च इंजन मार्केटिंग (SEM), affiliate marketing, Search Engine Optimization (SEO), आदि।

इसके अनुसार ही आप अपने लिए कोई डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करें, इससे आपको बहुत ही फायदा होगा। हम आपको बता दे कि आप सारे कोर्स को एक ही समय पर नहीं कर पाएगे।

ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स

डिजिटल मार्केटिंग को करने के लिए आपको मुख्य दो Option मिलते है। पहला ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग। ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को आप देश के किसी भी कोने से कर सकते है।

ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को करने के लिए आपको ऑनलाइन एक कोर्स खरीदना होगा उसके बाद आपके पास एक मोबाइल फ़ोन या कंप्यूटर और इंटरनेट connection होना चाहिए।

बस इन दो चीज़ से आप घर बैठे कोई भी डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स कर सकते है। यदि आप सोचे रहे है कि ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करने पर कोई certificate मिलेगा या नहीं.

तो हम बता दे की है बिल्कुल ही मिलेगा। हम यह भी बता दे कि आप फ्री ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स भी कर सकते है।

Offline डिजिटल मार्केटिंग कोर्स

ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के बाद ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स बच जाता है। ऑफलाइन कोर्स में किसी संस्था में जाकर डिजिटल मार्केटिंग कोर्स को सीखना होता है।

कोर्स पूरा हो जाने के बाद संस्था certificate भी देती है। ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स दूसरे कोर्स के जैसे ही करना होता है। संस्था के समय के अनुसार संस्था पर जाना होता है और क्लास करना होता है।

ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग और ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स में कौन अच्छा है

हमारे रिसर्च के अनुसार ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स से बहुत ही अच्छा होता है। ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स में नए चीज़ो को सिखाया जाता है।

इसके साथ ही आप उसको तुरंत कर भी सकते है। वही ऑफलाइन डिजिटल मार्केटिंग में पुराने समय के चीज़ो के बारे में बताया जाता है। जिसको सीखने से कोई फायदा नहीं होता है।

हम बता दे कि कुछ ऐसे ऑफलाइन संस्था भी होते है जो बहुत ही अच्छे होते है।

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के प्रकार

चलिए अब हम डिजिटल मार्केटिंग कोर्स के प्रकार के बारे में भी जान लेते है।

  • search engine optimization (SEO) कोर्स
  • search engine marketing (SEM) कोर्स
  • Blogging कोर्स
  • affiliate marketing कोर्स
  • YouTube कोर्स
  • social media marketing (SMM) कोर्स
  • Freelancing कोर्स

यह कुछ मुख्य डिजिटल मार्केटिंग के कोर्स है। इसके अलावा भी बहुत से कोर्स होते है। चलिए अब हम इन सभी कोर्स को एक-एक करके जानते है।

search engine optimization कोर्स

डिजिटल मार्केटिंग कोर्स की शुरुआत search engine optimization कोर्स से होता है। search engine optimization कोर्स में सिखाया जाता है कि कैसे किसी वेबसाइट या ब्लॉग को सर्च इंजन जैसे Google के search result में ज्यादा से ज्यादा ऊपर लाया जाए।

इसको करने के लिए backlink बना, on page seo और off page seo करना सिखाया जाता है। search engine optimization कोर्स को SEO कोर्स भी कहा जाता है।

यह जरूर जानें: SEO कैसे करें

search engine marketing (SEM) कोर्स

search engine marketing कोर्स में सर्च इंजन के ads को सिखाया जाता है। इस कोर्स में Google Ads, Bing Ads को चलना सिखाया जाता है।

सर्च इंजन ads से किसी भी website को सर्च रिजल्ट में तुरंत ऊपर लाया जा सकता है।

Google Ads का इस्तेमाल करके किसी भी वेबसाइट पर तुरंत ट्रैफिक लाया जा सकता है। Google Ads के इस्तेमाल से किसी कंपनी का सामान या सर्विस ऑनलाइन बेचा भी जा सकता है। यही सब कुछ search engine marketing के कोर्स में सिखाया जाता है।

Blogging का कोर्स

Blogging के कोर्स में ब्लॉग बनाना और ब्लॉग्गिंग सिखाया जाता है। ब्लॉग्गिंग के कोर्स से ब्लॉग बनाने से लेकर उसे Google में रैंक करने और उससे पैसे कमाने के बारे में बताया जाता है।

Blogging का कोर्स बहुत ही प्रसिद्ध कोर्स में से एक है। इस कोर्स को कई लोग बेचते है और कई लोग खरीदते है।

ब्लॉग्गिंग कोर्स को कोई भी ऑनलाइन पैसा कमाने के लिए करता है। पर कोई भी ब्लॉग्गिंग कोर्स बेचने वाली कंपनी, संस्था, व्यक्ति जिम्मेदारी नहीं लेता है कि उनके कोर्स को पूरा करने के बाद कोई ब्लॉग्गिंग से पैसा कमा सकता है।

यह जरूर जानें: ब्लॉग्गिंग कैसे करे

Affiliate marketing का कोर्स

affiliate marketing के कोर्स के बारे में जानने से पहले हमें affiliate marketing के बारे में जान लेना चाहिए। affiliate marketing में एक व्यक्ति किसी कंपनी का कोई सामान या सर्विस बिकवाता है।

उसके द्वारा बिकवाय गए सामान के दाम का कुछ प्रतिशत सामान बिकवाने वाले को मिलता है। सामान को बेचवाने वाले को affiliate link मिलता है जिसकी मदद से कंपनी पता लगा पाती है कि किसने किस सामान को कितना बिकवाया है।

affiliate marketing के कोर्स में यही सब कुछ करने के बारे में बताया जाता है।

YouTube कोर्स

YouTube के कोर्स में एक YouTube चैनल को बनाने, YouTube Video बनाने, YouTube वीडियो के लिए Thumbnail बनाने और बहुत कुछ YouTube के बारे में बताया और सीखाया जाता है।

YouTube के कोर्स में तरह-तरह की जानकारी दी जाती है, YouTube पर famous होने के लिए और YouTube से पैसा कमाने के लिए।

इस YouTube के कोर्स को बहुत ज्यादा बेचा और ख़रीदा जाता है। संस्था भी इस कोर्स को कराती है।

यह जरूर जानें: YouTube channel को promote कैसे करें

Social media marketing (SMM) कोर्स

क्या आपको पता है कि जिस सोशल मीडिया का इस्तेमाल आप सारा दिन करते रहते है उस सोशल मीडिया पर मार्केटिंग करने के लिए कोर्स होता है। जिस कोर्स को लोग ऑनलाइन खरीदते है या किसी संस्था से करते है।

यह बिल्कुल ही सत्य है कि सोशल मीडिया मार्केटिंग के लिए कोर्स होता है। इस कोर्स में सीखने को मिलता है कि कैसे सोशल मीडिया को इस्तेमाल करके किसी कंपनी के बारे में लोगो को जागरूरक किया जा सकता है।

कैसे इस सोशल मीडिया का इस्तेमाल करके कोई सामान या सर्विस बेचा जा सकता है। इसके साथ ही बहुत कुछ सोशल मीडिया मार्केटिंग में बताया और सीखाया जाता है।

Freelancing का कोर्स

Freelancing के कोर्स को जानने से पहले हमें यह जान लेना चाहिए कि freelancer कौन होता है और freelancing क्या होता है। Freelancer वह इंसान होता है जो अपने घर बैठे किसी दूसरे व्यक्ति के काम को करता है और पैसे लेता है। एक Freelancer यह सभी काम ऑनलइन ही करता है। काम लेने से लेकर उसे करने और पैसा लेने तक।

Freelancing Freelancer के काम को कहा जाता है। Freelancing के कोर्स में Freelancing करने के बारे में बताया जाता है। Freelancing के कोर्स में बताया जाता है कि कैसे ऑनलाइन किसी कंपनी से कोई काम हासिल किया जा सकता है। काम को हासिल करने के लिए जो भी तरीके होते है वह सब कुछ इस कोर्स में सीखाया जाता है।

क्या डिजिटल मार्केटिंग कोर्स करना जरूरी है

आखरी पर बहुत ही जरूरी सवाल कि क्या डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करना जरूरी होता है, क्या किसी को डिजिटल मार्केटिंग को करने से पहले कोई कोर्स करना चाहिए।

इसका जवाब हाँ और ना दोनों ही है। अगर कोई इंसान कुछ भी खुद से नहीं कर पाता है तो वह इंसान जरूर डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करें। वही जिस इंसान को इंटरनेट के बारे में सीखना पसंद है तो वह इंसान खुद से डिजिटल मार्केटिंग सीख सकता है।

बस उसको इंटरनेट पर अपने काम को शुरू कर देना चाहिए। उसको internet पर फ्री में ही डिजिटल मार्केटिंग से जुडी बहुत जानकारी मिल जाएगी। हम बता दे कि कोई भी डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स बेचने वाला यह जिम्मेदारी नहीं लेता है कि उनके कोर्स को करने के बाद आप सफल हो जाओगे। अब आपको खुद ही तय कर लेना चाहिए कि आप डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करेंगे या नहीं।

अंत के शब्द

हमने यहाँ पर digital marketing course के बारे में हिंदी में जाना। हमने जाना कि digital marketing course क्या होता है, digital marketing course के कितने प्रकार होते है और इसमें हमें क्या सीखाया जाता है।

इसके साथ ही हमने यह भी जाना कि डिजिटल मार्केटिंग का कोर्स करना जरूरी होता है या नहीं। आपको यह जानकारी कैसी लगी आप हमें बता सकते है।

हैल्लो , आपका itwebcompany.com पर स्वागत है। हमें इंटरनेट के बारे में जानकारी देना बहुत ही पसदं है। हम आपको यहाँ blogging, SEO, WordPress, YouTube और Digital marketing के बारे में जानकारी देते है। आप हमें सीधे हमारी Email Id से जुड़ सकते है। हमारा Email id [email protected] किसी तरह की मदद के लिए आप हमें [email protected] पर contact करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here